Heart attack | हार्ट अटैक से ठीक पहले के लक्सण |

 

Heart attack | हार्ट अटैक से ठीक पहले के लक्सण  |

Heart attack | हार्ट अटैक से ठीक पहले के लक्सण

Heart attack | हार्ट अटैक से ठीक पहले के लक्सण



जबतक अस्पताल की मदद नहीं आ रही है, तब तक आपको क्या करना है। जहां भी खड़े हैं उसी जगह पर बैठ जाएं। ज्यादा दूर चलने की जरूरत नहीं है। बाहर है करके वहीं चुपचाप बैठ जाएं और बैठकर गहरी गहरी सांसें लेने की कोशिश करें। आखों को बंद रखें।

ज्यादा दिमाग मचला है और आपका जो साथी है तुरंत फोन करे। अस्पताल। अगर आपके सीने में दर्द है आपका दिल लगातार दहल उठता है। सास कम आ रही है या पूरी नहीं आ रही है। हल्का या तेज सिर में दर्द हो रहा है। मतली या उल्टी आ रही है। कन्फ्यूजन या बदहवासी लग रही है। पसीना आ रहा है। गर्मी के मारे या ठंड लग रही है, लेकिन आप दो तरह के दिल के दौरे होते हैं।

दिल के दौरे के प्रकार

हिंदी में दिल का दौरा एक ही नाम है कि हृदय घात हो गया। हवा के मुख्यतः दो होते हैं और उसके तमाम रूप होते हैं, लेकिन मुख्यतः दो होते हैं। एक जिसमें आप कुछ कर सकते हैं। आप इलाज कर सकते हैं और पहले से बता देता है कि बढ़िया हम आ रहे हैं।

दूसरा होता है कार्डियक रेट्स मतलब कि दिल ने अचानक काम करना बंद कर दिया। साइकिल ट्रैक से सीधे निकल गए। उसमें आप कुछ भी नहीं कर सकते हैं तो जो दिल के दौरे होते हैं। आज क्यों दिल के दौरों की बात करेंगे जिनको दिल की बीमारी है कि दूसरे जो दिल की बीमारी के कंपटीशन में लगे हुए हैं कि जल्दी से आपको लग जाओ तो उन लोगों के लिए खासतौर पहले पक्के कार्डिएक अरेस्ट जो होता है उसमें आप अपनी तरफ से कुछ नहीं कर सकते हैं क्योंकि वो एक सिचुएशन होती है।

दिल में अचानक काम करना बंद कर दिया।

हार्ट अटैक भी क्या होता है

कि दिल के अंदर दिल के कई भाग होते हैं। कई कमरे होते हैं और दिल को चलाने से लेके उन कमरों में फंसने वाली चीजों से ले के तमाम तरह की चीजें होती है, जिनकी वजह से दिल हाथ खड़े कर देता है और कहता है कि भैया मेरे लिए मुश्किल हो रही है या तो आप ठीक कर लो वरना हम चलेंगे तो जो दिल के दौरे होते हैं वो हमेशा बता के आते हैं।

पहले से सिग्नल दे के आते हैं। अगर आपने वो सिग्नल समय पर पहचान लिए तब तो आप मरीज को बचा ले जाएंगे या मरीज खुद भी बच जाएगा। लेकिन अगर आपने वो सिग्नल वो साइन नहीं पहचाने तो बात में मुश्किल आ सकती है

तो सिग्नल क्या है

और हम लोग क्या खाए पिए कैसे जो घरेलू उपचार है उनसे कैसे अपने दिल के दौरों से अपनी बचत कर सके। यानी कि दिल में आने वाले जो प्रोटेस्ट है, मतलब क्यों उनके रुकावटें है किस परसेंटेज में कितना क्या होता है लेकिन अभी आज केवल बात कर लेते हैं। दिल के दौरे पर और कल बात करेंगे।

उनके घरेलू उपचार और ऐसा कोई जुगाड़ के दिल का दौरा आपको आए ही ना तो पहले चीज़ देख लें कि जब भी दिल का दौरा आता है कभी भी पहला दिल का दौरा बहुत खतरनाक नहीं आता है। पहला दिल का दौरा एक सिग्नल होता है जिससे कि हम लोग पैनिक अटैक भी कहते हैं या हार्ट बोल भी कह सकते हैं। मतलब कि आपका जो दिल है वो सारे रास्तों से गुजरकर हार्ट अटैक जब पहुंचता है उससे पहले कई बार और

छोटे छोटे से अटैक्स आते हैं। उन अटैक को आप पहचान ले तो यहां हम बात कर कि कौन सा पैनिक अटैक है और कौन सा असली दिल का दौरा है। ये असली दिल के दौरे और पैनिक के अटैक में बहुत थोड़ा सा फर्क होता है तो मैं आपको कुछ लक्षणों के नाम बता दूं। शुरुआत के अगर वो लक्षण केवल वो लक्षण आ रहे हैं तो वो पैनिक अटैक है और आप अपनी जीवनशैली में सुधार करके सही कर सकते हैं और उसके बाद के जो लक्षण है वो हार्ट अटैक है।

आपको बिल्कुल इन्तजार नहीं करना है। सीधे अस्पताल भागना है

तो क्या क्या है वो लक्षण पहला लक्षण है। अगर आपके सीने में दर्द है। आपका दिल लगातार दहलता है। सांस कम आ रही है या पूरी नहीं आ रही है। हल्का या तेज सिर में दर्द हो रहा है। मतली या उल्टी आ रही है। कन्फ्यूजन या बदहवासी लग रही है। पसीना आ रहा है। गर्मी के मारे या ठंड लग रही है। ये सिचुएशन दोनों में होती है। पैनिक अटैक में भी और हार्ट अटैक में भी अगर ये सात बातें केवल सात बातें ही आ रही है तो बहुत संभव है कि पहले एक अटैक है क्योंकि जब हार्ट अटैक आएगा तो उसके साथ मैं आप आपके बांह में जो है हाथ में दर्द होगा। दोनों हाथों में या एक हाथ में दर्द हो सकता है। उसके अलावा दाग, कंधे, कमर, गले या पेट के ऊपरी भाग में दर्द हो सकता है। इनमें सबमें दर्द हो सकता है या कुछ में भी दर्द होता है। अगर आपको उन सात जो मैंने शुरू में बताए थे, उसके अलावा हाथ में दर्द

आ रहा है। दांत में दर्द दिखाई पड़ रहा है। गले में दर्द हो रहा है। पीछे रीढ़ की हड्डी में दर्द हो रहा है। पेट के ऊपरी भाग में दर्द हो रहा है तो ये हार्ट अटैक के शुरुआत के लक्षण है। अगर ये हो रहा है तो भैया बिल्कुल देर न करें। सीधे। अस्पताल की तरफ भागे

जबतक अस्पताल की मदद नहीं आ रही है, तब तक आपको क्या करना है।

जहां भी खड़े हैं उसी जगह पर बैठ जाएं। ज्यादा दूर चलने की जरूरत नहीं है। बाहर है करके वहीं चुपचाप बैठ जाएं और बैठकर गहरी गहरी सांसें लेने की कोशिश करें। आखों को बंद रखें। ज्यादा दिमाग मचला है और आपका जो साथी है तुरंत फोन करें। अस्पताल को एंबुलेंस को बुलाएं और अस्पताल भागे किसी भी जुगाड़ किसी भी शॉर्ट ट्रिक्स के चक्कर में न पड़ें। अगर शुरुआती सात लक्ष्यों के अलावा हाथ दांत, कमर की हड्डी, पेट या रीढ़ में दर्द हो रहा है तो ये हार्ट अटैक की शुरुआत है और आपके पास बहुत ज्यादा समय नहीं है। अस्पताल आपको पहुंचना है तो ये तो है लेकिन न कि आपका हार्ट जो कह रहा है कि ये मैं अटैक की तरफ जा रहा हूं, लेकिन अगर आप दिल के मरीज हैं तो आपको क्या खाना है अपने दिल को मजबूत करने के लिए और जो अपनी शॉर्टेज अपनी जो रोक आपने लगाई हुई है कि 60 परसेंट है, 70 परसेंट है। 80 परसेंट है तो कौन रोको को उन शॉर्टेज को समय से खत्म कर सके। बहुत मोटी भाषा में अगर समझना चाहें तो भी समझ ले कि आप अपने पर्स में रोज रुपया भरते चले जा रहे हैं तो एक

समय आएगा कि आपका पर्स बहुत मोटा हो जाएगा और उसमें रुपये नहीं जाएंगे। आपका पर्स हट जाएगा। उससे बचने का आसान तरीका ये है कि पहले पर्स में नोटों को भरना बंद करें और उसके बाद जो भरे हुए नोट हैं, उनको एक एक करके खर्च करना शुरू करें। वहां से आपका पर्स जो है वो मजबूत होना शुरू हो जाएगा।

ये मुख्य वासा है तो जो कल का प्रोग्राम है उसको हम लोग खास और बात करेंगे कि अगर आप दिल के मरीज और रेडी है तो कौन सा भोजन ऐसा है जो सीधे दिल की मसल्स को मदद करता है। दिल एक पूरी मशीन है और दिल को चलने के लिए भी अलग तरीके के खाने की जरूर होती जो हमारा शरीर खुद बनाता है। लेकिन अगर आप दिल के मरीज है तो हो सकता है। आपके शरीर को बाहरी खाने की जरूरत पड़ सकती है। एक चीज दूसरा कैसे अस्पतालों का चक्कर लगाने की जगह पर अपने प्रोटेस्ट को खुद खत्म करने की बात सोचे। ये प्रोग्राम आएगा कल का आज कहीं सकत है।

इस प्रोग्राम को कहीं पे सेव करके रख लीजिएगा क्योंकि ये प्रोग्राम जो लक्ष्य मैंने बताए हैं किसी की जिंदगी बचा सकता है तो यह बहुत जरूरी है। लोगों को अगर आप दे सकते हैं, बांट सकते हैं, शेयर कर सकते हैं तो जरूर करें। बहुत अच्छा है लेकिन अपने पास कहीं पर उसको सेव करके या जो लाइक है वो करके रख लेंगे तो समय पर ये प्रोग्राम आपके काम आ जाएगा। आज नहीं तो कल रात मिलते हैं। कल फिर क्या खाने से दिल और मजबूत होता है और जो शॉर्टेज वगैरह है उनको कम कैसे करना है, लेकिन खाना बहुत जरूरी

है। क्या खाने से आपका दिल मजबूत होगा? ये बहुत जरूरी है क्योंकि अगर आपका पेट थोड़ा सा भी गोल हो रहा है। मटकी थोड़ा सा बाहर निकल रहा है तो आपको उस खाने की जरूरत है क्योंकि आपका दिल जो है वो धीरे धीरे कमजोर होगा जितना बड़ा पेट होगा। दिल के ऊपर उतना ही ज्यादा प्रेशर पड़ेगा। आज तक मिलते हैं कल फिर घर है अपना।


हार्ट अटैक (Heart Attack), कारण, लक्षण, बचाव, उपचार

7 लक्षण दिखें, तो आने वाला है हार्ट अटैक

Post a Comment

Previous Post Next Post

Contact Form