गंदे वीडियो देखने की लत से छुटकारा पाना How to stop watching porn in Hindi

 गंदे वीडियो देखने की लत से छुटकारा पाना
How to stop watching porn in Hindi

गंदे वीडियो देखने की लत से छुटकारा पाना  How to stop watching porn in Hindi
गंदे वीडियो देखने की लत से छुटकारा पाना  How to stop watching porn in Hindi


आजकल के युवा लोग पोर्न वीडियो जिया फोटोस देखते हैं वेबसाइट के

माध्यम से विभिन्न क्लिक फोटोज क्लिप के माध्यम से या फिर सोशल मीडिया के माध्यम से

इन्हें दोस्तों को भी शेयर करते हैं और इन इंटरनेट के माध्यम से उनके बारे में ज्यादा बातचीत भी करते हैं

अपने आसपास के इस तरह के माहौल के कारण वह रोजाना पोर्न देखना

चाहते हैं किसी भी हालात में वह रह नहीं पाते

इस आदत को पोर्न एडिक्शन कहते हैं

1. पोर्न एडिक्शन क्या है

2. इसके लक्षण और संकेत

3. पोर्न एडिक्शन होने का मुख्य कारण

4. पोर्न एडिक्शन के साइड इफेक्ट

5 पोर्न एडिक्शन से छुटकारा कैसे पाएं

इस आदत के कारण उनकी परफॉर्मेंस यानी कार्य करने की क्षमता दिन ब दिन खराब होती जाती हैं छोटी-छोटी बातों पर भी उनका मूड ठीक नहीं रहता है सामाजिक लाइव से दूरी हो जाती हैं और उनकी सेहत में धीरे-धीरे गिरावट आने लगती हैं इस आदत के कारण उनकी याददाश्त कमजोर हो जाती हैं और वह भूलने की बीमारी के आदी होने लगते हैं

और वहां कोई भी कार्य करने को फॉक्स नहीं दे पाते हैं

उनका ध्यान बार-बार भटकता रहता है और उनकी सेक्स लाइफ है वह बहुत खराब होने लग जाती है इसकी वजह से उन्हें आर्थिक रूप से भी नुकसान होने लगता है इस तरह से उसकी पूरी लाइफ खराब होने लग जाती है यह व्यक्ति की बहुत ही खतरनाक लत होती है

पोर्न एडिक्शन क्या है
what is porn addiction in
Hindi

सेक्सी फिल्मों या खलीफा को बार-बार देखने का मन करता है और उसे बार-बार देखते

हैं उसे ही पोर्न एडिक्शन कहते हैं

सेक्सुअल कंटेंट के बारे में इंटरनेट पर खोजना और उसे पढ़ना


पोर्न एडिक्शन के लक्षण
symptoms of porn addiction

अलग-अलग प्रकार के लोगों में अलग अलग टाइप के लक्षण भी हो सकते हैं

इसके अंतर्गत कुछ ऐसे नॉर्मल ही लक्षण होते हैं जो दूसरे लोगों को भी नजर आने

लगते हैं

पोर्न को देखने के लिए अपने समय की बर्बादी करना और पैसा विकास करना

घर ऑफिस या जरूरी कार्य को नजरअंदाज करते हुए पोर्न भी देखना

अपने मोबाइल फोन में पोर्न से संबंधित क्लिप्स या फोटोस रखना

अपनी लाइफ डिस्टर्ब होने पर बार-बार porn देखना है


पोर्न एडिक्शन होने के मुख्य कारण

The main reasons for having
porn addiction.

जब हम अपने नॉर्मल लाइफ में पार्टनर से संतुष्ट नहीं होते हैं तभी हमें इस लत

का कारण होने लगता है

इसके अंतर्गत हमारा सामाजिक सिस्टम हमारा पर्सनल लाइफ सिस्टम यहां पर आसपास के होने वाले माहौल यह सभी प्रतियां मुख्य कारण है पोर्न की एक्टिविटी से उसको मन और बॉडी को शांति मिलती हैं ऐसा महसूस होने लगता है

इसी आदत के कारण वह गंदे लत की ओर बढ़ते जाते हैं

इस आदत के कारण लोगों में चिड़चिड़ापन डिप्रेशन का शिकार होना फिर वो धीरे धीरे शराब या किसी नशे की लत में भी चले जाते हैं

अपने नॉर्मल ही जिंदगी में आज संतुष्टि के कारण होने बार-बार पोर्न देखने के लिए मन होता है

पोर्न एडिक्शन के साइड इफेक्ट Side effects of porn
addiction

पोर्न एडिक्शन के कारण हमें कहीं टाइप के साइड इफेक्ट हो सकते हैं

कुछ एहसास के होते हैं जो हमारी जिंदगी तबाह कर देती हैं इसकी वजह

से मैं जिसे शराब या ड्रग्स की आदी हो जाते हैंह

कुछ लोग हैं वह जुए के भी आदी हो जाते हैं यह लते बहुत हानिकारक होती है जिसे छुटकारा पाना उनके लिए बस की बात नहीं होती हैं

पोर्न एडिक्शन है जो उन्हें मानसिक रूप से भी बहुत कमजोर कर देती

है

जिन्हें पॉर्न एडिक्शन की बीमारी हो जाती है वह ज्यादातर अपना समय

मोबाइल पर ही व्यतीत करता है और दूसरे लोगों से मेलजोल नहीं रह पाता है

और सामाजिक रुप से इस प्रकार लोगों से दूरी बनाता है उसे ही प्रकार उसे डिप्रेशन का शिकार होने लगता है

इस नेगेटिव थोटिंग के कारण उसके अलावा दूसरे लोगों पर भी प्रभाव पड़ता है

पोर्न एडिक्शन की बीमारी के कारण मानसिक स्तर गिरता चला जाता है और शारीरिक रूप से भी कमजोर करती हैं उसके साथ-साथ उसका कार्य में मन नहीं लगता जिसके कारण वह आर्थिक रूप से भी गिरता चला जाता है

जिसकी वजह से उसका सभा में चित चढ़ा और गुस्सैल तरीका का हो जाता है

और वह अपने आसपास मौजूद व्यक्तियों के साथ कुछ गलत हरकत भी कर सकता है

बार-बार पोर्न एडिक्शन देखने के कारण व मास्टरब्युशन भी ज्यादा करते हैं और उनकी सेक्स लाइफ बिल्कुल डाउन होती चली जाती है

इसे गलत लग के कारण वह हर तरह से अपने आप को नीचे गिराता चला जाता है

पोर्न एडिक्शन से छुटकारा कैसे पाएं

सस्ती इंटरनेट के कारण फॉर्म देखना ज्यादा चालान हो गया है

पोर्न एडिक्शन से छुटकारा पाने के लिए हमें यह जानना जरूरी है कि

इसकी लत कहां तक पढ़ी हुई है और कितने समय तक हम porn दिन में देखते हैं

हमारे दिमाग की thinking

यहां आस-पास का कैसा माहौल है जिसके कारण हमें पोर्न देखना का मन बार-बार होता है

इन सभी चीजों को एक बार नोट कर लें और फिर धीरे-धीरे इस लत से कैसे छुटकारा पाएं कैसे लिमिटेड करें इसके ऊपर काम करें

पोर्न को करें ब्लॉक

हमारे मोबाइल यहां आस-पास जिसने भी पेनड्राइव हार्ड डिक्स में कौन से संबंधित वीडियो क्लिप किया फोटोस हैं उन्हें सब डिलीट कर दें

जो पोर्न वेबसाइट हैं उन्हें ब्लॉक कर दिया जाए

हमारे मोबाइल को लैपटॉप में कैसे सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल कर ले ताकि पोर्न वीडियो वाली साइट है

ब्लॉक हो सके और मैं किसी भी प्रकार का कोई नोटिफिकेशन भी ना मिले

व्यस्त रहे

जितना टाइम आप अकेले रहेंगे उतने ही टाइम आपके मन में porn देखने का होगा

दिनभर व्यस्त रहें या नहीं कुछ कार्य छोटा-मोटा करते रहे या अपने परिवार या आस पड़ोस के साथ समय व्यतीत करते रहे

अपना एक अच्छा फ्रेंड सर्किल भी बनाएं और उनके साथ रहे


मोबाइल से दूरी बनाए रखें

मोबाइल या लैपटॉप के जरिए ही ज्यादातर porn  देखा जाता है या

फिर सोशल मीडिया के अंदर ग्रुप sites के द्वारा तो ज्यादातर में इन्हें दूरी रखना है

नए-नए सीख लेने की कोशिश करें

कुछ भी तरीके की नई-नई एक्टिविटीज में अपने आप को शामिल करें

मैत्री के किसी भी सीखने की कोशिश करें जिससे इस लत से आपको छुटकारा मिल जाएगा

जैसे डांस क्लास है सिंगिंग करना या बुकिंग करना या पेंटिंग वगैरह


खुद पर फोकस करने

इस संसार के अंदर सबसे कीमती चीज है वह है आपका शरीर इस पर ज्यादा ध्यान दें

अपनी पुरानी तस्वीरों को देखें कि आप पहले कैसे अच्छे दिखते थे और अब आप कैसे

हो गए हो

शरीर को एकदम हेल्दी लाइफ़स्टाइल में रखना है

Research in porn addiction

कुछ research जो बहुत बड़े चौकानेवाले हैं

लगभग 4000000 लोग पोर्न वेबसाइटों का इस्तेमाल करते हैं

जिसकी वजह से बहुत सारे लोगों में पॉर्न एडिक्शन की बीमारी हो जाती है

लगभग 22 परसेंट महिलाएं पोर्न साइट है देखते हैं

23 परसेंट पुरुष porn ऑफिस में भी देखते हैं

15 परसेंट महिलाएं ऑफिस में भी porn देखती हैं


पोर्न एडिसन से छुटकारा पाने की उपाय

थेरेपी

जिन लोगों को पोर्न एडिक्शन के कारण थकावट डिप्रेशन यहां घबराहट होती है

उन्हें थेरेपी सिस्टम के द्वारा इलाज दिया जाता है उन्हें सही तरीके की काउंसलिंग दी जाती है उनकी बीमारी को पूर्ण तरीके से समझने के बाद उन्हें काउंसलिंग और थेरेपी दी जाती है

बात करना

पोर्न एडिक्शन बीमारी में बात करना है हम मुख्य थेरेपी है इसके अंतर्गत इस

बीमारी से जूझ रहे दो लोगों के बीच बाद और मेंटली तौर पर मजबूत लोगों के साथ बात


मेडिटेशन

पॉर्न एडिक्शन की बीमारी से पीड़ित लोगों को दवाइयां भी दी जाती है उसके

साथ-साथ उन्हें योगा करना मेडिटेशन करना अनुलोम-विलोम आदि प्रक्रिया करवाई जाती है


अगर आपको यह मेरे द्वारा लिखा गया पोस्ट पसंद आया है तो आप कमेंट जरुर करें और इस पोस्ट को शेयर भी जरूर करें

Post a Comment

Previous Post Next Post

Contact Form